छोटे ट्रेड के लिए सिग्नल; 2 में से 3 ऑसिलेटर प्रवेश की पुष्टि कर रहे हैं

सीसीआई आरएसआई रणनीति के लिए एक गाइड। ट्रेडिंग के लिए इस शक्तिशाली 3-संकेतक कॉम्बो का उपयोग करें IQ Option

सीसीआई आरएसआई रणनीति पर IQ Option

इसे संक्षिप्त रखने के लिए, हमने आज की ट्रेडिंग पद्धति को CCI RSI रणनीति का नाम दिया है। यह लगभग गाया जाता है। ट्रेडिंग रणनीतियाँ आपको एक सफल ट्रेडर बनने में मदद कर सकती हैं। आपको ट्रेडिंग रणनीति उलट केवल यह जानना है कि उनका उपयोग कैसे और कब करना है। आज, मैं एक ऐसी रणनीति पेश ट्रेडिंग रणनीति उलट करूंगा जो आपको ट्रेंड रिवर्सल और ट्रेडिंग पोजीशन खोलने के सर्वोत्तम बिंदुओं के बारे में संकेत देगी। यह तीन अलग-अलग संकेतकों पर निर्भर करेगा। साथ में, वे बहुत मूल्यवान संकेत प्रदान करेंगे।

संकेतक सूची तक पहुंचने में सक्षम होने के लिए, आपको अपने में लॉग इन करना होगा IQ Option व्याावसायिक खाता। आपको यह भी तय करना होगा कि क्या आप जिस प्रकार की संपत्ति का व्यापार करना चाहते हैं. इस रणनीति के लिए, यह सबसे अच्छा है प्रमुख मुद्रा जोड़े में से चुनें। चुनना जापानी कैंडलस्टिक्स चार्ट प्रकार, इसलिए मैं जिस ट्रेडिंग रणनीति उलट रणनीति का वर्णन कर रहा हूं वह स्पष्ट रूप से दिखाई देगी। इन चीजों के हल हो जाने के बाद, आप तीनों रणनीति के लिए एक खाका बनाने के लिए तैयार हैं।

तीन पर CCI RSI रणनीति का उपयोग कैसे करें IQ Option मंच

RSI, CCI और विलियम्स %R आपके नीचे दिखाई देने चाहिए मूल्य चार्ट, एक दूसरे के नीचे। आपका काम अब उन्हें ध्यान से देखना और अनुकूल स्थिति के आने का इंतजार करना ट्रेडिंग रणनीति उलट है। और इस मामले में अनुकूल स्थिति क्या है?

सीसीआई आरएसआई रणनीति के साथ लंबे लेनदेन खोलना

ऐसी तीन स्थितियां हैं जिसकी आप उम्मीद कर सकते हैं।

  1. RSI oscillator विंडो पर दो क्षैतिज रेखाएँ खींची गई हैं। उनके मान 30 और 70 हैं। 30 रेखा को RSI रेखा नीचे से काटनी चाहिए।
  2. Williams %R विंडो पर, आपको कुछ क्षैतिज रेखाएँ दिखाई देंगी। इंडिकेटर को -80 रेखा को नीचे से काटना चाहिए और ऊपर की ट्रेडिंग रणनीति उलट ट्रेडिंग रणनीति उलट तरफ जारी रखना चाहिए।
  3. माना जाता है कि सीसीआई लाइन -100 लाइन को नीचे से काटती है।

सभी इंडिकेटर सेट हैं

निष्कर्ष

सीसीआई आरएसआई रणनीति जो आरएसआई को जोड़ती है, विलियम्स % R और CCI प्रवृत्ति के उलट होने की भविष्यवाणी करता है। इस रणनीति में तीन थरथरानवाला हैं, हालांकि यह पर्याप्त है जब आप उनमें से केवल दो से एक संकेत प्राप्त करते हैं।

रणनीति-त्रय के सिग्नल बहुत मजबूत और विश्वसनीय हैं।

प्रमुख मुद्रा जोड़े जैसे उच्च भुगतान दरों वाले बाजारों पर सीसीआई आरएसआई रणनीति का उपयोग करना एक अच्छा विचार है।

आपके लेन-देन की अवधि आपके द्वारा उपयोग की जा रही मोमबत्तियों की अवधि पर निर्भर करती है। यह आपके चार्ट की समय सीमा के समान होना चाहिए, हमारी राय में, 5 मिनट सबसे अच्छा काम करते हैं, लेकिन आप एक अलग अवधि भी आज़मा सकते हैं। तदनुसार समायोजित करें।

याद रखें, एक है IQ Option अभ्यास खाते पर इस संकेतक को आजमायें| जहां आप हर उस नई रणनीति को लागू कर सकते हैं जिसके बारे में आपने पढ़ा है। आपको वहां वर्चुअल कैश मिलता है जिससे आपके पास जोखिम-मुक्त ट्रेडों को खोलने की संभावना होती है। जब तक आपको आवश्यकता हो तब तक अभ्यास करें और तैयार होने पर वास्तविक खाते में स्विच करें। पोस्ट के नीचे टिप्पणियों में सीसीआई आरएसआई रणनीति के साथ अपने अनुभव का वर्णन करना सुनिश्चित करें।

शेयर बाजार ऊपर जायेगा या नीचे, एक्सपर्ट के मुताबिक आज कौन से शेयर खरीद बेच सकते हैं

शेयर बाजार ऊपर जायेगा या नीचे, एक्सपर्ट के मुताबिक आज कौन से शेयर खरीद बेच सकते हैं

शेयर बाजार में गुरुवार को भी अस्थिरता जारी रही लेकिन लगातार पांचवें सत्र में शेयर बाजार ऊपर चढ़कर बंद हुआ। निफ्टी 50 में 45 अंक की बढ़त देखने को मिली और वह 18,257 पर बंद हुआ जबकि बीएसई सेंसेक्स 85 अंक ऊपर 61,235 पर बंद हुआ। निफ्टी बैंक इंडेक्स 257 अंक गिरकर 38,469 के स्तर पर बंद हुआ। शेयर बाजार के विशेषज्ञों के अनुसार, शार्ट टर्म में भारतीय शेयर बाजार का रुझान सकारात्मक बना हुआ है। लॉन्ग पोजीशन में ट्रेडिंग करने से उच्च स्तर पर सावधानी बरतने की जरूरत है।

25 पैसे वाले शेयर ने दिया ट्रेडिंग रणनीति उलट धांसू रिटर्न, रिस्क लेने वाले निवेशक बन गए करोड़पति!

इस शेयर ने किया निवेशकों को मालामाल

aajtak.in

  • नई दिल्ली,
  • 25 अक्टूबर 2022,
  • (अपडेटेड 25 अक्टूबर 2022, 2:39 PM IST)

पेनी स्टॉक (Penny stock) कई बार लोगों को कम समय में ही जबरदस्त मुनाफा कमा देते हैं. सालभर में निवेश राशि कई गुना बढ़ जाती है. कई बार निवेश पूरी रकम स्वाहा भी हो जाती है. ऐसा ही एक पेनी स्टॉक है राज रेयॉन (Raj Rayon Stock) के स्टॉक में निवेश करने वाले निवेशकों को जबरदस्त मुनाफा हुआ है. एक साल में इस कंपनी के शेयर ने 1570 फीसदी का मल्टीबैगर रिटर्न दिया है. वहीं, पिछले एक महीने में निवेशकों को 39 फीसदी का रिटर्न मिला है. पांच साल की अवधि में ये स्टॉक 8920 फीसदी उछला है और इसमें लगातार तेजी ही देखने को मिल रही है. आज भी राज रेयॉन के शेयर ग्रीन में ट्रेड कर रहे हैं.

सम्बंधित ख़बरें

बेशुमार संपत्ति के मालिक हैं सुनक, राजनीति में आने से पहले करते थे ये काम
ऋषि ट्रेडिंग रणनीति उलट सुनक के PM बनने से गदगद महिंद्रा, बोले- हुआ था भारतीयों का अपमान
दामाद ऋषि सुनक बनेंगे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री, नारायणमूर्ति ने कही ये बात
बढ़त के साथ खुला शेयर मार्केट, मारुति और सन फार्मा के शेयरों में तेजी
फेस्टिव सीजन में सस्ता हुआ सोना, 24 कैरेट गोल्ड के रेट में इतनी गिरावट

सम्बंधित ख़बरें

आज भी शेयर में उछाल

आज भी राज रेयॉन के शेयर में बढ़त देखने को मिल रही है. कंपनी का शेयर 1.81 फीसदी चढ़र 22.55 पर कारोबार कर रहा है. पिछले पांच दिनों इस स्टॉक में पांच फीसदी से अधिक की उछाल देखने को मिली है. इसका 52 वीक का हाई स्तर 22.55 रुपये है. वहीं, अगर लो की बात करें, तो ये 1.35 रुपये रहा है.

एक्सपर्ट्स की राय

एक्सपर्ट्स की मानें तो किसी भी कंपनी के शेयर खरीदने से पहले उसके बारे में पूरी जांच पड़ताल कर लें. कंपनी के कारोबार से लेकर उसके पिछसे साल के नेट फ्रॉफिट और रेवेन्यू की जांच कर लें. इसके अलावा कंपनी के फ्यूचर ग्रोथ, प्रोडक्ट और परफॉरमेंस की जानकारी हासिल करने के बाद ही निवेश करें. शेयर खरीदने से पहले मार्केट एक्सपर्ट्स से सलाह जरूर करें. पेनी स्टॉक में उतना ही निवेश करनी चाहिए, जितना आप नुकसान झेल सकें. ऐसे स्टॉक में अधिक समय के लिए निवेश न करें.

SMART INVESTING : क्या है निवेश का स्मार्ट तरीका, कैसे मिल सकता है आपको बेहतर रिटर्न

SMART INVESTING : क्या है निवेश का स्मार्ट तरीका, कैसे मिल सकता है आपको बेहतर रिटर्न

स्मार्ट इनवेस्टर जानते हैं कि बाजार को लेकर किसी भी तरह की भविष्यवाणी नहीं की जा सकती.

SMART INVESTING : बाजार में निवेश करते समय निवेशकों की सबसे बड़ी चिंता ज्यादा रिटर्न का पीछा करने में शामिल जोखिमों को लेकर होती है. स्मार्ट इनवेस्टर अच्छी तरह जानते हैं कि बाजार को लेकर किसी भी तरह की भविष्यवाणी नहीं की जा सकती. छोटी अवधि में किसी भी निवेश पर फायदा या नुकसान हो सकता है लेकिन ज्यादा रिटर्न की चाहने वाले निवेशक लंबी अवधि तक निवेश करना पसंद करते हैं. अक्सर बाजार में टाइम इन द मार्केट (Time in the market) और टाइमिंग द मार्केट (Timing the market) को लेकर बहस होती रहती है. कई निवेशक निवेश करते समय किसी स्टॉक के भविष्य के बाजार मूल्य का अनुमान लगाने की कोशिश करते हैं. इसमें जोखिम काफी ज्यादा होता है. निवेश की इस रणनीति को ही टाइमिंग द मार्केट कहते हैं. इसके उलट, कई निवेशक लंबी अवधि के लिए निवेश करते हैं. ऐसे निवेशक यह अनुमान लगाने की कोशिश किए बिना स्टॉक खरीदते हैं कि बाजार में कब तेजी या मंदी होगी. निवेश की इस रणनीति को टाइम इन द मार्केट कहा जाता है. अब सवाल यह है कि दोनों में बेहतर रणनीति क्या है.

टाइमिंग द मार्केट

टाइमिंग द मार्केट का मतलब यह है कि एक निवेशक स्टॉक के भविष्य के शेयर की कीमत का अनुमान लगाने की कोशिश कर रहा है. हालांकि यह तरीका सोचने में अच्छा लगता है कि कम कीमत पर खरीदो और कीमत ज्यादा होने पर बेच दो. लेकिन इस तरीके में जोखिम काफी ज्यादा होता है. हो सकता है कि किसी दिन आपकी ‘किस्मत’ अच्छी हो और आपको इस रणनीति से ज्यादा रिटर्न मिल जाए, पर इस रणनीति की सबसे बड़ी कमजोरी ‘किस्मत’ ही है. किसी दिन ऐसा भी हो सकता है कि आपकी किस्मत अच्छी ना हो ओर आपको काफी ज्यादा नुकसान हो जाए. स्टॉक मार्केट में भविष्य के बारे में किसी भी तरह का अनुमान नहीं लगाया जा सकता. स्टॉक की कीमतें तेजी के साथ बदलती हैं, इसका मतलब यह है कि आपका अनुमान हमेशा सटीक नहीं हो सकता. अगर आपको कोई भी वित्तीय सलाहकार इस रणनीति के साथ निवेश की सलाह देता है तो आपको सचेत हो जाना चाहिए. टाइमिंग द मार्केट में कई बार आपको बहुत ज्यादा नुकसान उठाना ट्रेडिंग रणनीति उलट पड़ सकता है. अगर आप ब्रोकर की मदद ले रहे हैं तो बार-बार ट्रेडिंग करने से ब्रोकरेज कमीशन की लागत बढ़ जाती है. जितना अधिक स्टॉक खरीदा और बेचा जाता है, उतना ही ज्यादा कमीशन ब्रोकर कमाता है. इसमें सबसे बुरी बात यह है कि इस कमीशन का भुगतान निवेशक को ही करना होता है, भले ही उसे बाजार में नुकसान उठाना पड़ रहा हो.

टमाटर को फ्रिज में नहीं रखें: (tomato)

डायटिशियन के मुताबिक टमाटर को फ्रिज में स्टोर नहीं करना चाहिए। अगर आप टमाटर को रखना चाहते हैं तो कमरे के तापमान में रखें। एक्सपर्ट के मुताबिक टमाटर को फ्रिज में रखने से उसका स्वाद, बनावट और सुगंध में बदलाव होने लगता है। टमाटर ऐसी सब्जी है जो पकने के बाद एथिलीन गैस छोड़ती हैं जो सब्जियों को तेजी से पकाती है। टमाटर को अगर रखना चाहते हैं तो कमरे में रखें।

no alt text set

Shot of cute baby girl looking at camera

DOG SHOW IN LUDHIANA

खीरा को ट्रेडिंग रणनीति उलट फ्रिज में नहीं रखें: (Cucumber)

कॉलेज ऑफ एग्रीकल्चर एंड एनवायर्नमेंटल साइंसेज के मुतााबिक अगर खीरे को 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे कुछ दिनों तक रखा जाए तो ये तेजी से सड़ने लगता हैं। खीरा को आप फ्रिज में नहीं रखें बल्कि नॉर्मल टेम्प्रेचर पर रखें। ज्यादा समय तक फ्रिज में रखा खीरा सेहत को बिगाड़ सकता है।

एवोकाडो को फ्रिज में नहीं रखें। एवोकाडो में फैटी एसिड ज़्यादा मात्रा में होता है और कोलेस्ट्रॉल का स्तर भी कम होता है। इस फूड को फ्रिज में रखने पर उसकी बाहरी परत सख्त हो जाती है और अंदरूनी भाग खराब होने लगता है। कच्चे एवोकाडोस को फ्रिज में रखने पर वो कच्चे ही रहेंगे और खराब हो जाएंगे और आपकी सेहत को नुकसान पहुंचाएंगे।

आलू को फ्रिज में नहीं रखें: (Do not keep potatoes in the fridge)

कुछ लोग आलू को भी बाकी सब्जियों के साथ फ्रिज में रख देते हैं। आलू को फ्रिज में रखने पर उसमें मौजूद स्टार्च शुगर में बदल जाता है जो शुगर के मरीजों की ब्लड शुगर को बढ़ा सकता है। एक्सपर्ट के मुताबिक आलू को फ्रिज में रखने के बजाए खुली जगह पर नॉर्मल तापमान में रखें।

हेल्थलाइन की खबर के मुताबिक लहसुन को कई तरह से संग्रहित किया जा सकता है, जैसे कि कमरे के तापमान पर या रेफ्रिजरेटर या फ्रीजर में। लेकिन एक्सपर्ट के मुताबिक ताजा लहसुन को स्टोर करने का सबसे सरल और सबसे अच्छा तरीका आपके किचन में हैं। किचन में नॉर्मल तापमान पर लहसुन को स्टोर करने से उसकी तासीर नहीं बदली और वो सेहत के लिए उपयोगी रहता है।

रेटिंग: 4.19
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 834