Himachal Pradesh Result: किसी से नहीं डरती…, हिमाचल की अकेली महिला विधायक रीना कश्यप बोलीं- कोई दबा नहीं सकता आवाज

जब शेयर मार्केट गिरता है तो कहां जाता है आपका पैसा? यहां समझिए इसका गणित

आपको लाभ के लिए स्टॉक कब बेचना चाहिए?

अस्वीकरण :
इस वेबसाइट पर दी की गई जानकारी, प्रोडक्ट और सर्विसेज़ बिना किसी वारंटी या प्रतिनिधित्व, व्यक्त या निहित के "जैसा है" और "जैसा उपलब्ध है" के आधार पर दी जाती हैं। Khatabook ब्लॉग विशुद्ध रूप से वित्तीय प्रोडक्ट और सर्विसेज़ की शैक्षिक चर्चा के लिए हैं। Khatabook यह गारंटी नहीं देता है कि सर्विस आपकी आवश्यकताओं को पूरा करेगी, या यह निर्बाध, समय पर और सुरक्षित होगी, और यह कि त्रुटियां, यदि कोई हों, को ठीक किया जाएगा। यहां उपलब्ध सभी सामग्री और जानकारी केवल सामान्य सूचना उद्देश्यों आपको लाभ के लिए स्टॉक कब बेचना चाहिए? के लिए है। कोई भी कानूनी, वित्तीय या व्यावसायिक निर्णय लेने के लिए जानकारी पर भरोसा करने से पहले किसी पेशेवर से सलाह लें। इस जानकारी का सख्ती से अपने जोखिम पर उपयोग करें। वेबसाइट पर मौजूद किसी भी गलत, गलत या अधूरी जानकारी के लिए Khatabook जिम्मेदार नहीं होगा। यह सुनिश्चित करने के हमारे प्रयासों के बावजूद कि इस वेबसाइट पर निहित जानकारी अद्यतन और मान्य है, Khatabook किसी भी उद्देश्य के लिए वेबसाइट की जानकारी, प्रोडक्ट, सर्विसेज़ आपको लाभ के लिए स्टॉक कब बेचना चाहिए? या संबंधित ग्राफिक्स की पूर्णता, विश्वसनीयता, सटीकता, संगतता या उपलब्धता की गारंटी नहीं देता है।यदि वेबसाइट अस्थायी रूप से अनुपलब्ध है, तो Khatabook किसी भी तकनीकी समस्या आपको लाभ के लिए स्टॉक कब बेचना चाहिए? या इसके नियंत्रण से परे क्षति और इस वेबसाइट तक आपके उपयोग या पहुंच के परिणामस्वरूप होने वाली किसी भी हानि या क्षति के लिए उत्तरदायी नहीं होगा।

Share कब खरीदना और बेचना चाहिए? (7 आसान तरीकों से पता करें)

आज के समय में हर किसी की रुचि शेयर मार्केट में बढ़ती जा रही है। लोग पैसे बैंक में जमा कराने की बजाय या FD, mutual fund, gold आदि में invest करने की बजाय शेयर मार्केट में निवेश करना अधिक पसन्द कर रहे हैं।

यदि आप शेयर मार्केट में पैसा लगाने की सोच रहे हैं, तो आपको यह ज्ञान होना जरूरी है कि आपको कौन सा share अपने portfolio मे रखना चाहिए। तभी आप शेयर मार्केट से मुनाफा कमा सकते हैं।

इसीलिए आज का हमारा यह post share के buy, sell से संबंधित है। हमारे इस post का विषय है कि हमे अपने शेयर कब खरीदना और बेचना चाहिए.

Share खरीदते या बेचते समय सावधानी रखनी योग्य बातें

यदि आप शेयर मार्केट में beginner है तो आपको सबसे पहले share market सीखने का कार्य करना चाहिए। अक्सर लोग जल्दी पैसा कमाने के चक्कर में लोगों की दी गई सलाह के अनुसार पैसा invest कर देते हैं और नुकसान उठा लेते हैं।

यहां तक कि कुछ लोगों को तो बिल्कुल भी मालूम नहीं होता कि शेयर मार्केट काम कैसे करता है और वह भी पैसा कमाने की रेस में शेयर आपको लाभ के लिए स्टॉक कब बेचना चाहिए? मार्केट में कूद जाते हैं और पैसा गवा लेते हैं।

जिस तरह से असल दुनिया में भी बाजार के कायदे कानून होते हैं उसी तरह से शेयर मार्केट के भी कुछ अपने नियम होते हैं यदि आप उन्हे follow नहीं करते आपको लाभ के लिए स्टॉक कब बेचना चाहिए? तो आपको गारंटी नुकसान होता है।

कई बार आपको किसी शेयर में पैसा invest करने की सलाह दी जाती है क्योंकि उसने पिछले कुछ महीनों में 300 से 400 % या इससे भी अधिक रिटर्न दिया हो, परंतु इस बात की क्या गारंटी होती है कि वह आने वाले समय में भी लाभ ही देगा।

Share को कब खरीदना चाहिए?

एक सफल investor वारेन बफेट बताते हैं कि किसी भी investor को शेयर उस समय खरीदना चाहिए जब पूरा stock market डरा हुआ हो और उस समय बेच देना चाहिए, जब पूरा मार्केट लालच से भरा हो।

उनके कहने का तात्पर्य है कि जब मार्केट गिर रहा हो तो आपको उस समय लालची बन जाना चाहिए और जब market लालची हो तब आपको डरना चाहिए।

आइए अब हम आपको कुछ तरीके बताते हैं जिनसे आपको किसी share को खरीदने और बेचने में मदद मिलेगी।

1) Company के factors check करे

यदि आप technical research नहीं जानते हैं तो आपको बता दें कि किसी भी शेयर को खरीदने से पहले हमें उस कंपनी के शेयर के कई factors देखने पड़ते हैं। जैसे:-

  • कंपनी का business model क्या है और कंपनी कैसे पैसे कमाती है।
  • Company का business कैसा चल रहा है।
  • Company के ऊपर debt कितना है।
  • Company का management कैसा है।
  • क्या company लिए हुए कर्ज का भुगतान समय पर कर रही है?
  • कंपनी एक्सचेंज में registered होने के बाद में निवेशकों को कितना return दे चुकी है।
  • क्या कंपनी उसी सेक्टर की अन्य कंपनियों से compete कर सकती है।
  • उस कंपनी के future plan क्या है।

अगर आप भी करते हैं स्‍टॉक मार्केट में निवेश, तो आप पर कितना लगता है टैक्‍स

अगर आप भी करते हैं स्‍टॉक मार्केट में निवेश, तो आप पर कितना लगता है टैक्‍स

आयकर विभाग को आईटीआर लेट भरने पर ब्‍याज का भुगतान करना होता है। (Indian Express Archive)

इस बात की जानकारी सभी को होती है कि सैलरी, रेंटल इनकम और बिजनेस होने वाली आय टैक्‍सेबल होती है, जिसके लिए आय के हिसाब से स्‍लैब भी दिए गए हैं। जिस आय आपको लाभ के लिए स्टॉक कब बेचना चाहिए? की स्‍लैब में जो आता है, उसे उतना टैक्‍स देना होता है। वहीं दूसरी ओर बात शेयरों से होने वाली कमाई की बात करें तो सवाल उठता है कि वो भी क्‍या टैक्‍सेबल है। होममेकर्स, रिटायर्ड लोग अपनी जमा पूंजी को शेयरों में निवेश करते हैं, लेकिन उन्‍हें इस बात की जानकारी नहीं होती है कि शेयरों से होने वाली कमाई इनकम टैक्‍स के दायरे में आती है या नहीं। वास्‍तव में शेयरों को बेचने और खरीदने पर होने आपको लाभ के लिए स्टॉक कब बेचना चाहिए? वाले फायदे और हानि आधार पर टैक्‍स लगाया जाता है। आइए आपको भी बताते हैं कि शेयरों से होने वाली कमाई पर कितना और किस तरह का टैक्‍स लगता है।

जब शेयर मार्केट गिरता है तो कहां जाता है आपका पैसा? यहां समझिए इसका गणित

  • शेयर मार्केट डिमांड और सप्लाई के फॉर्मूले पर काम करता है
  • अगर कंपनी अच्छा परफॉर्म करेगी तो उसके शेयर के दाम बढ़ेंगे
  • राजनीतिक घटनाओं का भी शेयर मार्केट पर पड़ता है असर

alt

5

alt

5

alt

कंपनी के आपको लाभ के लिए स्टॉक कब बेचना चाहिए? भविष्य को परख कर करते हैं निवेश

आपको पता होगा कि कंपनी शेयर मार्केट में उतरती हैं. इन कंपनियों के शेयरों पर निवेशक पैसा लगाते हैं. कंपनी के भविष्य को परख कर ही निवेशक और विश्लेषक शेयरों में निवेश करते हैं. जब कोई कंपनी अच्छा प्रदर्शन करती है, तो उसके शेयरों को लोग ज्यादा खरीदते हैं और उसकी डिमांड बढ़ जाती है. ऐसे ही जब किसी कंपनी के बारे में ये अनुमान लगाया जाए कि भविष्य में उसका मुनाफा कम होगा, तो कंपनी के शेयर गिर जाते हैं.

डिमांड और सप्लाई के फॉर्मूले पर काम करता है शेयर

शेयर मार्केट डिमांड और सप्लाई के फॉर्मूले पर काम करता है. लिहाजा दोनों ही परिस्‍थितियों में शेयरों का मूल्‍य घटता या बढ़ता जाता है. इस बात को ऐसे लसमझिए कि किसी कंपनी का शेयर आज 100 रुपये का है, लेकिन कल ये घट कर 80 रुपये का हो गया. ऐसे में निवेशक को सीधे तौर पर घाटा हुआ. वहीं जिसने 80 रुपये में शेयर खरीदा उसको भी कोई फायदा नहीं हुआ. लेकिन अगर फिर से ये शेयर 100 रुपये का हो जाता है, तब दूसरे निवेशक को फायदा होगा.

अगर आप भी करते हैं स्‍टॉक मार्केट में निवेश, तो आप पर कितना लगता है टैक्‍स

अगर आप भी करते हैं स्‍टॉक मार्केट में निवेश, तो आप पर कितना लगता है टैक्‍स

आयकर विभाग को आईटीआर लेट भरने पर ब्‍याज का भुगतान करना होता है। (Indian Express Archive)

इस बात की जानकारी सभी को होती है कि सैलरी, रेंटल इनकम और बिजनेस होने वाली आय टैक्‍सेबल होती है, जिसके लिए आय के हिसाब से स्‍लैब भी दिए गए हैं। जिस आय की स्‍लैब में जो आता है, उसे उतना टैक्‍स देना होता है। वहीं दूसरी ओर बात शेयरों से होने वाली कमाई की बात करें तो सवाल उठता है आपको लाभ के लिए स्टॉक कब बेचना चाहिए? कि वो भी क्‍या टैक्‍सेबल है। होममेकर्स, रिटायर्ड लोग अपनी जमा पूंजी को शेयरों में निवेश करते हैं, लेकिन उन्‍हें इस बात की जानकारी नहीं होती है कि शेयरों से होने वाली कमाई इनकम टैक्‍स के दायरे में आती है या नहीं। वास्‍तव में शेयरों को बेचने और खरीदने पर होने वाले फायदे और हानि आधार पर टैक्‍स लगाया जाता है। आइए आपको भी बताते हैं कि शेयरों से होने वाली कमाई पर कितना और किस तरह का टैक्‍स लगता है।

रेटिंग: 4.49
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 260