शेयर बाजार 4 घंटे पहले (20 दिसम्बर 2022 ,12:15)

राहुल जी आपका अमेठी से लड़ना पक्का समझूं. कांग्रेस नेता के ऐलान पर स्मृति ईरानी का पलटवार

कांग्रेस नेता राहुल गांधी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी.

लोकसभा चुनाव होने में करीब दो साल का वक्त है पर उत्तर प्रदेश में उसका असर अभी से देखने को मिलने लगा है. चुनाव के असर का अंदाजा राजनेताओं के तल्ख होते बयानों से भी लगाया जा सकता है. एक समय कांग्रेस का गढ़ रहे अमेठी सीट पर भाजपा ने 2019 में अपना परचम लहराया था. इस सीट पर हार की टीस अबतक कांग्रेस नेताओं में देखी जा सकती है. वहीं सोमवार को कांग्रेस नेता अजय राय (Ajay Rai) ने अमेठी से सांसद स्मृति ईरानी (Smriti Irani) को लेकर एक विवादित बयान दे दिया है. वहीं स्मृति ईरानी इस पर पलटवार भी किया.

कांग्रेस नेता अजय राय ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को लेकर विवादित बयान दिया. उन्होंने कहा कि स्मृति ईरानी अमेठी में आती हैं और लटके-झटके देकर चली जाती हैं. यह राजनीति बदला लेने के लिए प्रयोजित करेगी. उन्होंने संकेत दिया कि राहुल गांधी 2024 में अमेठी से लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं.

वहीं कांग्रेस नेता अजय राय के बयान पर पलटवार करते हुए स्मृति ईरानी ने ट्वीट में लिखा है कि सुना है राहुल गांधी जी आपने अपने किसी प्रांतीय नेता से अभद्र तरीके से 2024 में अमेठी से लड़ने की घोषणा करवाई है. तो क्या आपका अमेठी से लड़ना पक्का समझूं? दूसरी सीट पर तो नहीं भागेंगे? डरेंगे तो नहीं. ट्वीट में स्मृति ने राहुल और सोनिया गांधी पर तंज कसते हुए यहां तक कह दिया कि अजय राय को अब किसी नए स्क्रिप्ट राइटर की जरूरत है.

बता दें कि भारत जोड़ो यात्रा को लेकर सोनभद्र पहुंचे और कहा कि अमेठी में वह लटके-झटके दिखाने आती हैं और चली जाती हैं. अजय ने कहा कि अमेठी हराहुल गांधी और कांग्रेस का गढ़ रहा है और रहेगा. उन्होंने यह दावा किया, राहुल गांधी अमेठी से ही चुनाव लड़ेंगे और जीतेंगे. अजय राय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 2024 के चुनाव में बनारस सीट से हराने की खुली चुनौती दे दी. उन्होंने कहा कि उनको बनारस में मैं हराउंगा इसकी खुली चुनौती है. इसके अलावा अजय राय ने केंद्र की भाजपा सरकार को लेकर कहा, 'व्यापारी अपनी दुकान छोड़कर भाग रहे हैं. राहुल जी ने जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स कहा था.

ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी ने पेंसिल्वेनिया विवि के व्हार्टन स्कूल में एरेस्टी इंस्टीट्यूट ऑफ एक्जीक्यूटिव एजुकेशन के साथ किया समझौता

शेयर बाजार 4 घंटे पहले (20 दिसम्बर 2022 ,12:15)

ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी ने पेंसिल्वेनिया विवि के व्हार्टन स्कूल में एरेस्टी इंस्टीट्यूट ऑफ एक्जीक्यूटिव एजुकेशन के साथ किया समझौता

ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी ने पेंसिल्वेनिया विवि के व्हार्टन क्या आप एक सफल व्यापारी बनने के लिए तैयार हैं स्कूल में एरेस्टी इंस्टीट्यूट ऑफ एक्जीक्यूटिव एजुकेशन के साथ किया समझौता

सोनीपत, 20 दिसंबर (आईएएनएस)। ओ.पी. जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी (जेजीयू) की स्थापना के 13 साल पूरे होने पर, 100 जेजीयू छात्रों को एक अद्भुत सर्टिफिकेट में भाग लेने के लिए चुना जाएगा।अमेरिका के पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय के व्हार्टन स्कूल में एरेस्टी इंस्टीट्यूट ऑफ एक्जीक्यूटिव एजुकेशन के सहयोग से जेजीयू के छात्रों के लिए विशेष रूप से कार्यक्रम तैयार किया गया है।

इन फुल-टाइम छात्रों का चयन जेजीयू के 12 स्कूलों से योग्यता के आधार पर 2023 की गर्मियों में व्हार्टन स्कूल में अध्ययन के लिए किया जाएगा।

भारत के विश्व स्तरीय निजी विश्वविद्यालय (क्यूएस वल्र्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2022 में लगातार तीन बार भारत में नंबर एक स्थान पर) और व्हार्टन एक्जीक्यूटिव एजुकेशन के बीच साझेदारी प्रबंधन शिक्षा में उत्कृष्टता को बढ़ावा देने के लिए शुभ संकेत है।

व्हार्टन में उद्योग-संबंधित कार्यक्रम विशेष रूप से डिजाइन किए गए मॉड्यूल की पेशकश करेगा, जिसमें बिजनेस मॉडल क्या आप एक सफल व्यापारी बनने के लिए तैयार हैं इनोवेशन और इकोसिस्टम, अंतर्राष्ट्रीय बैंकिंग और वित्तीय बाजार, उद्यमिता और प्रौद्योगिकी नवाचार, वैश्विक व्यापार रणनीति और विलय और अधिग्रहण, एनालिटिक्स के साथ रणनीति और रणनीतिक नेतृत्व और प्रभाव शामिल हैं। पाठ्यक्रम मॉड्यूल व्हार्टन फैकल्टी द्वारा पेश किए जाएंगे, जो व्यवसाय, वित्त और उद्यमिता के अपने संबंधित क्षेत्रों में विश्व के अग्रणी विद्वान हैं। इस कार्यक्रम के सफल समापन पर जेजीयू के छात्रों को व्हार्टन स्कूल से पूर्णता का प्रमाण पत्र प्राप्त होगा।

ओ.पी. जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी के संस्थापक कुलपति प्रोफेसर (डॉ.) सी. राज कुमार ने कहा, जेजीयू और व्हार्टन एक्जीक्यूटिव एजुकेशन के बीच जो सहयोग किया जा रहा है, वह अद्वितीय और परिवर्तनकारी होगा, जिसे दुनिया के कुछ सबसे उत्कृष्ट शिक्षाविदों और विचारक लीडरों से सीखने और उनके साथ जुड़ने का अवसर दिया जाएगा। यह राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के दृष्टिकोण के अनुरूप है, जिसने भारतीय उच्च शिक्षा के अंतर्राष्ट्रीयकरण की भूमिका और महत्व को मान्यता दी है। भारतीय छात्रों, महामारी के बाद, भारत और विदेशों में विश्व स्तरीय संस्थानों में अध्ययन करने की आकांक्षा रखते हैं। वे विश्व स्तर पर विभिन्न उद्योगों में विभिन्न क्षमताओं में योगदान करने के लिए जेजीयू और व्हार्टन में सीखने की सहक्रियाओं से अत्यधिक लाभान्वित होंगे।

जिंदल ग्लोबल बिजनेस स्कूल के डीन प्रोफेसर (डॉ.) मयंक ढौंडियाल ने कहा, यह जेजीयू के छात्रों के लिए आइवी लीग संस्थान में प्रबंधन, वित्त और उद्यमिता का अध्ययन करने का वास्तव में एक असाधारण अवसर है। यह कार्यक्रम हमारे छात्रों को व्यापक अनुभव प्रदान करेगा और उन्हें विश्व स्तर क्या आप एक सफल व्यापारी बनने के लिए तैयार हैं पर जागरूक और वैचारिक रूप से मजबूत बनाने में मदद करेगा, जिससे उनकी रोजगार क्षमता में वृद्धि होगी। हम अपने छात्रों को दुनिया भर के प्रमुख विश्वविद्यालयों और बिजनेस स्कूलों के साथ शॉर्ट और लॉन्ग-टर्म अंतरराष्ट्रीय अवसर प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, ताकि उन्हें लीडर्स और उद्यमी बनने में सक्षम और सशक्त बनाया जा सके।

जेजीयू में ऑफिस ऑफ इंटरनेशनल अफेयर्स एंड ग्लोबल इनिशिएटिव्स के डीन, प्रोफेसर (डॉ.) मोहन कुमार ने इस मौके पर कहा, जिंदल-व्हार्टन सहयोग वैश्विक जुड़ाव का एक उदाहरण है जिसका हमारे छात्रों के जीवन और सीखने पर सीधा प्रभाव पड़ता है। तथ्य यह है कि जेजीयू के छात्रों की एक बड़ी संख्या यूएसए के व्हार्टन स्कूल में विद्वानों और चिकित्सकों से वित्त और उद्यमिता से संबंधित कुछ अत्याधुनिक मुद्दों को सीखने में समय बिताएगी, यह छात्रों के लिए एक परिवर्तनकारी अवसर होगा।

ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी ने पेंसिल्वेनिया विवि के व्हार्टन स्कूल में एरेस्टी इंस्टीट्यूट ऑफ एक्जीक्यूटिव एजुकेशन के साथ किया समझौता

अंक ज्योतिष 20 दिसंबर: मंगलवार के लिए आपका लकी नंबर और शुभ रंग क्या रहेगा

अंक ज्योतिष 20 दिसंबर

दैनिक अंकज्योतिष भविष्यवाणी: अंक ज्योतिष की गणना करते समय किसी व्यक्ति का मूल उसकी तिथि का योग होता है। उदाहरण के लिए, यदि किसी व्यक्ति का जन्म 23 अप्रैल को हुआ है, तो उसकी जन्मतिथि के अंकों का योग 2+3=5 होता है। अर्थ 5 उस व्यक्ति का मूल कहलाता है। यदि किसी की जन्मतिथि दो अंक अर्थात 11 है तो उसका मूलांक 1+1=2 होगा। दूसरी ओर, जन्म तिथि, जन्म का महीना और जन्म का वर्ष का कुल योग भाग्यशाली अंक कहलाता है। उदाहरण के लिए यदि किसी का जन्म 22-04-1996 को हुआ है तो इन सभी अंकों के योग को शुभ अंक कहा जाता है। 2+2+0+4+1+9+9+6=33=6 यानी उसका लकी नंबर है इस अंक ज्योतिष को पढ़कर आप अपनी दैनिक योजनाओं को सफल बना सकते हैं। हमेशा की तरह अंक ज्योतिष आपको आपके मूलांक के आधार पर बताएगा कि इस दिन आपके सितारे आपके अनुकूल हैं या नहीं। आज आपको किन चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है या किस तरह के अवसर मिल सकते हैं। दैनिक अंकज्योतिष पूर्वानुमान पढ़कर आप दोनों स्थितियों के लिए तैयार हो सकते हैं। तो चलिए अंक ज्योतिष की मदद से जानते हैं कि आपका मूलांक, शुभ अंक और शुभ रंग क्या है।

अंक 1 :
कार्यस्थल पर आपके लिए यह समय बहुत अच्छा है। आपकी मेहनत का फल मिलेगा और आपको यात्रा करने का अवसर प्राप्त होगा। रोमांस में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।
भाग्यशाली संख्या- 19
शुभ रंग- बैंगनी

अंक 2:
आपका एकमात्र विकल्प उन कनेक्शनों को तोड़ना है जो अब काम नहीं करते हैं। आज आप अपने उन दोस्तों से सलाह लेना चाहते हैं जो आपसे सच्चा प्यार करते हैं और आपकी परवाह करते हैं। अपनों के लिए आपको पर्याप्त समय मिलेगा।
भाग्यशाली संख्या- 21
शुभ रंग- लाल

अंक 3:
अब यात्रा या कुछ नया पढ़ने की संभावना है। किसी चीज़ पर शोध अभी आपको रोमांचित करता है। किसी शिक्षक या काउंसलर से सलाह लेने के बाद ही कोई निर्णय लें। भाग्य आपके साथ है और कभी-कभी कोई अप्रत्याशित खजाना आपका इंतजार कर रहा होता है।
भाग्यशाली संख्या-15
शुभ रंग - गुलाबी

अंक 4:
आपके प्रयास आपको नाम और शोहरत दिला सकते हैं। यह सिर्फ शुरुआत है। आपका कड़क रवैया आपके साथ काम करने वालों को भी प्रभावित करेगा। आज आप जमकर मेहनत करेंगे लेकिन परिणाम भी अच्छे ही मिलेंगे।
भाग्यशाली संख्या -10
शुभ रंग- ग्रे

अंक 5:
आप उन चीजों के बारे में अनजान और दोषी महसूस करते हैं जो आपके नियंत्रण से बाहर हैं। अतीत की कोई चिंता आपको फिर से परेशान करेगी। अपने अंतर्ज्ञान का पालन करें और वही करें जो आपके शारीरिक और भावनात्मक स्वास्थ्य के लिए अच्छा हो।
भाग्यशाली संख्या- 26
शुभ रंग - नीला

अंक 6:
यह अप्रत्याशित रूप से धन कमाएगा। सोच समझ कर निवेश करें। सार्थक जीवन के अनुभव आपको आगे बढ़ते रहते हैं। आप भावनाओं की पेचीदगियों से दूर रहकर संसार के सुखों का आनंद लेना चाहते हैं। आपका धैर्य अपनों को प्रभावित करेगा।
भाग्यशाली संख्या- 11
शुभ रंग- भूरा

अंक 7:
जब आप कोई बड़ी खरीदारी या डील करना चाह रहे हों, तो दूसरों की सलाह और अनुभव ज़रूर सुनें। व्यापार या कानूनी मामलों पर चर्चा करने के लिए एक समारोह, सम्मेलन, बैठक आपको अभी व्यस्त रख सकती है।
भाग्यशाली संख्या- 31
शुभ वर्ण - केसर

अंक 8:
जिन लोगों से आप प्यार करते हैं, वे आपकी प्रेरणा और वास्तविक राय के स्रोत हैं। इशारों से नाचने वाले लोग आपकी मदद नहीं कर सकते। व्यस्त दिनचर्या से परिवार के साथ समय बिताने के लिए समय निकाल रहे हैं।
भाग्यशाली संख्या- 19
शुभ रंग-
नारंगी

अंक 9:
आपको ऐसा लगता है कि आप उन लोगों से घिरे हुए हैं जो आपका विरोध करते हैं। दूसरों के साथ व्यवहार में कूटनीति का प्रयोग अवश्य करें। अपनी यात्रा के दौरान दुर्घटनाओं और चोटों से बचने के लिए सावधानी बरतें। आज आपका स्वभाव चिड़चिड़ा हो सकता है।
भाग्यशाली संख्या- 29
शुभ रंग- सफेद

DRDO ने बढ़ाई अग्नि-5 मिसाइल की क्षमता, अब 7000 क्या आप एक सफल व्यापारी बनने के लिए तैयार हैं किमी दूर स्थित दुश्मन का भी कर देगी सफाया

नई दिल्ली। भारत (India) अगर चाहे तो अब अग्नि-5 बैलिस्टिक मिसाइल से 7000 किमी दूर स्थित दुश्मन का भी सफाया कर सकता है। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने एटमी सक्षम अग्नि-5 मिसाइल का वजन घटाकर इसकी क्षमता को बढ़ाने में सफलता हासिल की है।

इस मिसाइल में इस्पात (steel in missile) की जगह कम्पोजिट मैटेरियल (composite material) का इस्तेमाल किया है। एटमी सक्षम अग्नि 5 बैलिस्टक मिसाइल (Agni 5 Ballistic Missile) का गुरुवार सफल परीक्षण हुआ था जिसमें इसने अपनी क्षमता 5400 किमी दूर स्थित लक्ष्य को सफलतापूर्वक भेदा था।

डीआरडीओ ने वजन घटाकर बढ़ाई मिसाइल की क्षमता
डीआरडीओ ने सूत्रों ने बताया कि मिसाइल का वजन 20 फीसदी से अधिक तक घटा है। जिसके चलते अब इसकी मारक क्षमता 7000 किमी हो गई है। भारत में एटमी हथियार कार्यक्रम मुख्य रूप से चीन और पाकिस्तान समेत उसके अन्य विरोधियों के खिलाफ प्रतिरोध के लिए है। क्योंकि भारत नो फर्स-यूज पॉलिसी का पालन करता है और कभी भी पहले वार नहीं करता।

यह भी पढ़ें | PNB और इंडियन बैंक ने एफडी पर बढ़ाया 0.95 फीसदी तक ब्याज, दस साल में सबसे कम होगा बैंकों का एनपीए

पांच हजार किलोमीटर तक सटीक मार वाली मिसाइल की लॉन्च
इससे पहले परमाणु (nuclear) संपन्न बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-5 का परीक्षण सफलतापूर्वक किया था। इस मिसाइल में तीन स्टेज में संचालित होने वाला सॉलिड फ्यूल इंजन लगाया गया है। अग्नि-5 पांच हजार किलोमीटर तक सटीक मार करने की क्षमता रखती है। ओडिशा के बालासोर तट स्थित अब्दुल कलाम परीक्षण केंद्र पर यह परीक्षण किया गया।

चीन के ये शहर हैं जद में
रक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक, यह मिसाइल बीजिंग, शंघाई, ग्वांगझाउ और हांगकांग सहित पूरे चीन को निशाना बनाने में सक्षम है। ‘अग्नि-5’ अपनी शृंखला में सबसे आधुनिक हथियार है। इसमें नौवहन के लिए नवीनतम प्रौद्योगिकियां हैं। परमाणु सामग्री ले जाने की इसकी क्षमता दूसरी मिसाइल प्रणालियों से कहीं ज्यादा है।

अंतर-महाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल प्रणाली बहुत कम देशों के पास है, जिसमें पाकिस्तान शामिल नहीं है। इसमें अमेरिका, चीन. रूस, फ्रांस और उत्तर कोरिया शामिल हैं। बता दें कि भारत के पास पहले से ही 700 किमी रेंज वाली अग्नि-1, 2000 किमी रेंज वाली अग्नि-2, 2,500 किमी से 3,500 किमी रेंज वाली अग्नि-3 मिसाइलें हैं। इन्हें पाकिस्तान के खिलाफ बनाई गई रणनीति के तहत तैयार किया गया है। वहीं अग्नि-4 और अग्नि-5 को चीन को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है।

Uttar Pradesh : माघ मेला 2022-23 की तैयारियों की समीक्षा नगर विकास मंत्री ने किया

राज एक्सप्रेस

प्रयागराज, उत्तरप्रदेश। माघ मेला 2022-23 को सकुशल एवं निर्विघ्न ढंग से संपन्न कराए जाने हेतु मेला प्रशासन द्वारा की जा रही तैयारियों की समीक्षा नगर विकास मंत्री अरविंद कुमार शर्मा द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की गई।

बैठक में इस वर्ष की जा रही नई व्यवस्थाओं के संबंध में अवगत कराया। इसमें एक छोटी टेंट सिटी बनाने, 500 बेड की डॉरमेट्री बनाने, मेले में वाटर स्पोर्ट्स एक्टिविटी कराने, मेले में एलसीडी के माध्यम से प्रयाग एवं कुंभ के महत्व को दर्शाने तथा भारी संख्या में यंग वॉलिंटियर्स इंगेज करके जैसे बिंदु शामिल रहे।

मंत्री ने सभी सेक्टरों को जोन और सर्किल में बांटते हुए उनकी मैपिंग कराने, हर चौराहे पर "यू आर हियर" का साइन बोर्ड लगाने एवं साइंटिफिक तरीके से माइक्रो प्लानिंग करने की भी बात की। उन्होंने ज्यादातर सरकारी काउंटर्स पर पैम्फ्लेट उपलब्ध कराने, जिसके पीछे मेला क्षेत्र की डिटेल तथा एक रूट चार्ट बना हो, के भी निर्देश दिए हैं।

मेला क्षेत्र में लगाए जा रहे एलसीडी स्क्रीन पर स्वच्छ भारत मिशन कैंपेन संबंधित मैसेजेस चलाने, मेला क्षेत्र में वाटर एटीएम की भी व्यवस्था करने, नाविक सभी लोगों को लाइफ जैकेट पहनाने के बाद ही नदियों में ले जाएं यह सुनिश्चित करने, आई ट्रिपल सी का यूज़ क्राउड मैनेजमेंट एवं ट्रैफिक मैनेजमेंट के अलावा अन्य चीजों में भी करने के भी निर्देश दिए हैं।

एलसीडी स्क्रीन पर मैसेजेस चलाने हेतु एक क्या आप एक सफल व्यापारी बनने के लिए तैयार हैं क्या आप एक सफल व्यापारी बनने के लिए तैयार हैं प्रोफेशनल टीम हायर करने, मेला क्षेत्र की मॉनिटरिंग ड्रोन के माध्यम से कराने तथा 500 बेड कि डॉरमेट्री को विभिन्न सेक्टरों में बनाने के निर्देश दिए गए।

प्रमुख सचिव ने भूमि आवंटन के बाद सभी बड़े संतो से निरंतर मिलते हुए उनकी समस्याओं का निराकरण करते रहने, जो सुविधाएं उन सब को प्रशासन द्वारा दी गई हैं वह उन तक पहुंची है या नहीं यह सुनिश्चित करने, एक फैसिलिटेशन स्क्वॉड बनाने जो यह सुनिश्चित करेगा किस सभी कार्यों का अनुपालन सही तरीके से हो रहा है या नहीं, मेला क्षेत्र में स्मार्ट सिटी तथा कुंभ हेतु किए जा रहे कार्यों संबंधित जानकारी दर्शने, यंग वॉलिंटियर्स से क्या-क्या कार्य कराए जाएंगे इसकी एक सही रूपरेखा तैयार करने तथा मेला क्षेत्र में गमलों के माध्यम से हरियाली की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

माघ मेला 2022-23 को सकुशल एवं निर्विघ्न ढंग से संपन्न कराए जाने हेतु मेला प्रशासन द्वारा की जा रही तैयारियों की समीक्षा नगर विकास मंत्री अरविंद कुमार शर्मा द्वारा प्रमुख सचिव, नगर विकास अमृत अभिजात एवं अन्य संबंधित अधिकारियों की उपस्थिति में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की गई।

सर्वप्रथम मंडल आयुक्त विजय विश्वास पंत एवं मेला अधिकारी माघ मेला अरविंद कुमार चौहान ने विभिन्न विभागों द्वारा किए जा रहे कार्यों की अद्यतन स्थिति के बारे में अवगत कराते हुए मंत्री को आश्वस्त किया की शासन द्वारा दिए गए निर्देशों के क्रम में सभी कार्य पूरी गुणवत्ता के साथ 20 दिसंबर तक पूर्ण कर लिए जाएंगे।

तत्पश्चात मेला अधिकारी ने इस वर्ष क्या आप एक सफल व्यापारी बनने के लिए तैयार हैं माघ मेले में की जा रही नई व्यवस्थाओं के संबंध में माननीय मंत्री जी को अवगत कराया। इसमें पर्यटकों हेतु एक छोटी टेंट सिटी बनाने, आम जनमानस को ठंड से बचाने के दृष्टिगत एक 500 बेड की डॉरमेट्री बनाने, मेले में आए श्रद्धालुओं तथा पर्यटकों हेतु वाटर स्पोर्ट्स एक्टिविटी कराने, पूरे मेले को प्लास्टिक फ्री जोन बनाने, मेले के विभिन्न क्षेत्रों में एलसीडी स्क्रीन लगाकर प्रयाग एवं कुंभ के महत्व को दर्शाने तथा भारी संख्या में यंग वॉलिंटियर्स इंगेज करके मेले की बेहतर व्यवस्था बनाने में मदद लेने जैसे बिंदु शामिल रहे।

मेला प्रशासन द्वारा की जा रही व्यवस्थाओं के बारे में सुनने के पश्चात मंत्री ने कुछ आवश्यक सुझाव दिए जिसमें सर्वप्रथम मेले के सभी सेक्टरों को जोन और सर्किल में बांटते हुए उनकी मैपिंग कराने की बात कही गई। उनके अनुसार इससे ना सिर्फ सभी सेक्टरों को सभी सुविधाओं से परिपूर्ण किया जा सकेगा बल्कि आम जनमानस के लिए भी विभिन्न सेक्टरों में की गई व्यवस्थाओं तक पहुंचना आसान होगा। इस कार्य के दृष्टिगत उन्होंने हर चौराहे पर "यू आर हियर" का साइन बोर्ड लगाने एवं साइंटिफिक तरीके से माइक्रो क्या आप एक सफल व्यापारी बनने के लिए तैयार हैं प्लानिंग करने की भी बात की। उन्होंने ज्यादातर सरकारी काउंटर्स पर पैम्फ्लेट उपलब्ध कराने, जिसके पीछे मेला क्षेत्र की डिटेल तथा एक रूट चार्ट बना हो, के भी निर्देश दिए हैं।

इसी क्रम में उन्होंने 2019 कुंभ मेले में की गई सफाई व्यवस्था से सीख लेते हुए पूरे मेला क्षेत्र को स्वच्छ रखने, मेला क्षेत्र में लगाए जा रहे एलसीडी स्क्रीन क्या आप एक सफल व्यापारी बनने के लिए तैयार हैं पर स्वच्छ भारत मिशन कैंपेन संबंधित मैसेजेस चलाने, मेला क्षेत्र में वाटर एटीएम की भी व्यवस्था करने, नाविक सभी लोगों को लाइफ जैकेट पहनाने के बाद ही नदियों में ले जाएं यह सुनिश्चित करने, आई ट्रिपल सी का यूज़ क्राउड मैनेजमेंट एवं ट्रैफिक मैनेजमेंट के अलावा अन्य चीजों में भी करने के भी निर्देश दिए हैं।

इसके अतिरिक्त एलसीडी स्क्रीन पर मैसेजेस चलाने हेतु एक प्रोफेशनल टीम हायर करने, प्रयागराज, माघ मेले तथा कुंभ मेले को पर्यटन की दृष्टि से और विकसित करने के दृष्टिगत यहां की मार्केटिंग और बेहतर तरीके से करने, मेला क्षेत्र की मॉनिटरिंग ड्रोन के माध्यम से कराने तथा 500 बेड कि डॉरमेट्री को विभिन्न सेक्टरों में बनाने के निर्देश दिए गए।

बैठक में प्रमुख सचिव नगर विकास अमृत अभिजात द्वारा भी कई सुझाव दिए गए। इसमें भूमि आवंटन के बाद सभी बड़े संतो से निरंतर मिलते हुए उनकी समस्याओं का निराकरण करते रहने, जो सुविधाएं उन सब क्या आप एक सफल व्यापारी बनने के लिए तैयार हैं को प्रशासन द्वारा दी गई हैं वह उन तक पहुंची है या नहीं यह सुनिश्चित करने, कुछ अधिकारियों का एक फैसिलिटेशन स्क्वॉड बनाने जो यह सुनिश्चित करेगा किस सभी कार्यों क्या आप एक सफल व्यापारी बनने के लिए तैयार हैं का अनुपालन सही तरीके से हो रहा है या नहीं, मेला क्षेत्र में स्मार्ट सिटी तथा कुंभ हेतु किए जा रहे कार्यों संबंधित जानकारी दर्शने, यंग वॉलिंटियर्स से क्या-क्या कार्य कराए जाएंगे इसकी एक सही रूपरेखा तैयार करने तथा मेला क्षेत्र में गमलों के माध्यम से हरियाली की व्यवस्था करने जैसी बातें कही गईं।

बैठक में नगर आयुक्त चंद्र मोहन गर्ग मुख्य चिकित्सा अधिकारी नानक शरण समेत अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

रेटिंग: 4.50
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 306